सयुक्त राष्ट्र संघ : GK [महत्वपूर्ण बिन्दु]

  • सयुक्त राष्ट्र संघ की स्थापना 24 अक्टूबर 1945 को हुयी थी।
  • इसका प्रधान कार्यालय अमेरिका के न्यूयॉर्क मे स्थित हैं और इसके सदस्यो की वर्तमान संख्या 193 हैं।

सयुक्त राष्ट्र की भाषाएँ

  • अँग्रेजी, फ्रेंच, चीनी, अरबी, स्पेनिस और रूसी सयुक्त राष्ट्र के कार्यालय की भाषाएँ हैं। जबकि कार्यकारी भाषा अँग्रेजी और फ्रेंच हैं।

[youtube https://www.youtube.com/watch?v=MFZ_8yQYbms&w=560&h=315]

सयुक्त राष्ट्र का ध्वज

सयुक्त राष्ट्र के ध्वज की पृष्ठभूमि हल्की नीली हैं और उसमे सफ़ेद रंग से राष्ट्र संघ का प्रतीक बना हुआ हैं। यह प्रतीक हैं – दो जैतून की वक्राकार शाखाएँ, जो ऊपर से खुली हैं। और उनकी बीच मे विश्व का मान चित्र बना हैं।

सयुक्त राष्ट्र के प्रमुख अंग

महासभा (जर्नल असेंबली)

  • यह सयुक्त राष्ट्र संघ का एक मात्र अंग हैं – जिसमे संघ के सभी सदस्यो देशो को सदस्यता प्राप्त हैं एवं उन्हे समान मताधिकार दिया गया हैं।
  • इसका अधिवेशन वर्ष मे कम से कम एक बार अवश्य बुलाया जाता हैं। जो आमतौर पर सितंबर माह मे न्यूयॉर्क मे होता हैं।

[youtube https://www.youtube.com/watch?v=kJSGtmStfX4&w=560&h=315]

सुरक्षा परिषद

  • सुरक्षा परिषद विश्व शांति एवं सुरक्षा से संबन्धित सयुक्त राष्ट्र संघ के दायित्वों को पूरा करने वाली आदेशात्मक संस्था हैं।
  • इसके पाँच स्थायी सदस्य हैं – अमेरिका, ब्रिटेन, चीन, फ्रांस और रूस हैं।जब तक सुरक्षा परिषद का अस्तित्व है। तब तक सुरक्षा इन पांचों की स्थायी सदस्यता बनी रहेगी।
  • सुरक्षा परिषद के दस अस्थाई सदस्य भी होते हैं। जिनहे महासभा द्वारा दो वर्षो के लिए चुना जाता हैं।
  • अस्थाई सदस्यो मे आमतौर पर पाँच अफ्रीकी, एशियाई देशो से, दो लैटिन अमेरिका से, दो पश्चिमी यूरोप तथा एक पूर्वी यूरोप से चुना जाता हैं।
  • सुरक्षा परिषद के प्रत्येक स्थायी सदस्य को निषेधाधिकार (वीटो) प्राप्त होता । इस व्यवस्था के अनुसार यदि पाँच स्थायी सदस्यो मे से कोई एक भी किसी महत्वपूर्ण निर्णय के विपक्ष मे वोट दे देता हैं, तो वह विषय अस्वीकार्य समझा जाएगा।

[youtube https://www.youtube.com/watch?v=2UEQf64KcMM&w=560&h=315]

आर्थिक एवं सामाजिक परिषद

  • इस परिषद मे 54 सदस्य देश हैं।
  • यह एक स्थायी संस्था हैं। परंतु इसके 1/3 सदस्य प्रतिवर्ष पदमुक्त होते रहते हैं। इस प्रकार प्रत्येक सदस्य की अविधि 3 वर्ष होती हैं।
  • इसके कार्यो मे युद्ध एवं शस्त्र की राजनीति को छोडकर अंतर्राष्ट्रीय महत्व के सभी विषय आते हैं। यह आर्थिक, सामाजिक, शिक्षा तथा स्वास्थ्य से संबन्धित विभिन्न समस्याओ का आध्ययन कर उन पर रिपोर्ट तैयार करती हैं तथा उसने संबन्धित सुझाव महासभा एवं अन्य संबन्धित संस्थाओ को भेजती हैं।

न्याय परिषद (Trusteeship Council)

  • इस परिषद के माध्यम से सयुंक्त राष्ट्र का उन राष्ट्रो के प्रशासन एवं सुरक्षा से संबन्धित दायित्व स्पष्ट होता हैं। जो द्वितीय विश्व युद्ध के पश्चात भी स्वतंत्र नहीं हो पाये।

अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय (International Court of Justice)

  • इस न्यायालय मे 15 सदस्य होते हैं, जो महासभा एवं सुरक्षा परिषद द्वारा निर्वाचित किए जाते हैं।
  • इसका मुख्यालय द हेग (निदरलैंड्स) मे हैं।
  • न्यायाधीशो का कार्यकाल 9 वर्षो का होता हैं पर उनके दोबारा चुने जाने पर कोई प्रतिबंध नहीं हैं।
  • यह न्यायालय किसी विवाद के विषय पर विवादग्रस्त देशो द्वारा मामला उपस्थित किए जाने पर उसकेसंबंध मे निर्णय देता हैं।

सचिवालय (Secretariat)

  • यह सयुंक्त राष्ट्र का प्रशासनिक अंग हैं।
  • सचिवालय मे एक महासचिव तथा अन्य कर्मचारी होते हैं।
  • महासचिव की नियुक्ति 5 वर्षो के लिए सुरक्षा परिषदकी सिफ़ारिश पर महासभा द्वारा की जाती हैं।

[youtube https://www.youtube.com/watch?v=er7M4uarFVY&w=560&h=315]

सयुंक्त राष्ट्र महासचिव

  • ट्रिग्वे ली -> नार्वे -> 1946-53 (कार्यकाल)
  • डैग हैमरशोल्ड -> स्वीडन -> 1953-61 (कार्यकाल)
  • यू थान्ट -> म्यांमार -> 1961-71 (कार्यकाल)
  • कुर्ट वाल्ध्दीइम -> औस्ट्रिया -> 1972-81 (कार्यकाल)
  • ज़ेवियर पियरे द कुइयार -> पेरु -> 1982-91 (कार्यकाल)
  • डॉ॰ बूतरस घाली -> मिस्र -> 1992-96 (कार्यकाल)
  • कॉफी अन्नान -> घाना -> 1997 – 2006 (कार्यकाल)
  • बान की मून -> द कोरिया -> 2007 -2017 (कार्यकाल)
  • औंटोनियो गुटेर्रेस -> पुर्तगाल -> 2017 – अब तक

[youtube https://www.youtube.com/watch?v=1UvW_0ereE0&w=560&h=315]

About Ajeet Mishra

मेरा नाम अजीत मिश्रा हैं। मै विश्वविद्यालय मे कम्प्युटर साइन्स का टीचर हूँ। लेकिन साथ मे मैं तैयारी करने वाले अपने सभी साथियो को कम्प्युटर, इंडिया सामान्य ज्ञान के विषय को भी पढ़ता हूँ। मेरी रुचि साहित्य को पढ़ने तथा लिखने मे हैं। इस लिए मैं अपने खाली समय मे लघु कहानिया लिखना पसंद हैं।

View all posts by Ajeet Mishra →